तेल नहीं अब माचिस भी खरीदनी पड़ेगी महंगी! माचिस की कीमत
तेल नहीं अब माचिस भी खरीदनी पड़ेगी महंगी!
Advertisement

इंडिया : महगाई का असर अब चारों तरफ दिख रहा है पेट्रोल-डीजल हो या रसोई गैस या सब्जियां हो हर ओर से आम लोगों पर महंगाई की मार पड़ रही है लेकिन इस बार तो माचिस जैसी आम चीज के दाम भी बढ़ गए हैं जी है 14 साल बाद माचिस की कीमत में बढ़ोतरी देखने को मिली है पहले जो माचिस 1 रुपए की थी अब वह २ रुपये की हो गई है यानी अब कीमत डबल हो गई माचिस की बढ़ी हुई नई कीमते 1 दिसंबर 2021 से लागू होगी

क्यों बढ़ रही है माचिस की कीमत !

माचिस की रेट में बढ़ोतरी का फैसला ऑल इंडिया चेंबर ऑफ माचिस की तरफ से लिया गया है इंडस्ट्री के लोगों का कहना है कि हाल के दिनों में कच्चे माल के रेट में बढ़ोतरी के कारण माचिस की कीमत में इजाफे का फैसला लिया गया है इससे पहले 2007 में माचिस के रेट में बदलाव हुआ था

Advertisement

उस समय कीमत 50 पैसे थी जिसे बढ़ाकर ₹1 कर दिया गया था माचिस, की कीमत बढ़ने पर मैन्युफैक्चरस का कहना है कि इस एक माचिस को बनाने में 14 अलग अलग तरीके के रो मेटेरियल की जरूरत होती है इसमें से कई चीजें ऐसी होती है जिनकी कीमत दोगुनी से भी ज्यादा बढ़ गई है जैसे रेड फास्फोरस का रेट ₹425 से बढ़कर ₹810 हो गया है

क्यों बढ़ रही है माचिस की कीमत !
क्यों बढ़ रही है माचिस की कीमत !

वौक्स यानि मोम की कीमत ₹58 से बढ़कर ₹80 हो गई है आउट बॉक्स बोर्ड की कीमत ₹36 से बढ़कर ₹55 हो गई है और इनर बॉक्स बोर्ड की कीमत ₹32 से बढ़कर ₹58 हो गई इसके अलावा पेपर, सिम्पलेन्ट, पोटैशियम क्लोरेट, सल्फर जैसे पदार्थों की कीमत भी अक्टूबर के दूसरे सप्ताह में बड़ी है

इन तमाम कारणों से रेट में बढ़ोतरी का फैसला किया गया है मैन्युफैक्चरस इस समय 600 मैच बॉक्स का बंडल 270 से ₹300 में बेच रहे हैं हर माचिस में 50 तीलियां होती है यह ₹430 से ₹480 रुपये प्रति बंडल माचिस बेची जाएंगे इस में 12% की GST और ट्रांसपोर्टेशन कॉस्ट अलग से होगा यानि ओर से महंगाई की मार आप जनता पर पड़ती जा रही है

 

इसे भी पढ़े: राष्ट्रपति का तीन दिन का बिहार दौरा हुआ खत्म, लौटने से पहले किया धार्मिक स्थलों के दर्शन !!

इसे भी पढ़े: EPFO वालो के लिए जरूरी सूचना!

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here