2022 के तीसरे तिमाही में चंद्रयान-3 के लांच होने की है संभावना : डॉ जीतेन्द्र सिंह
2022 के तीसरे तिमाही में चंद्रयान-3 के लांच होने की है संभावना : डॉ जीतेन्द्र सिंह

इंडिया : बीते बुधवार लोकसभा के प्रश्नकाल में जवाब देते हुए केंद्र विज्ञान एवं प्रोद्योगिक राज्य मंत्री (स्वतंत्र), कार्मिक लोक शिकायत ,प्रधानमंत्री कार्यालय, पेंशन, अंतरिक्ष राज्य मंत्री, परमाणु ऊर्जा मंत्री डॉ जितेन्द्र सिंह  ने कहा की चंद्रयान-3 की कार्य प्रगति पर है। उन्होंने आगे कहा की कोरोना से उभरता भारत जैसे जैसे ज़िंदगिया हो रही है, सामान्य कार्य आरंभ होते देखते हुए चंद्रयान-3 को 2022 के तीसरे तिमाही में लांच करने की संभावना है।

2022 के तीसरे तिमाही में चंद्रयान-3 के लांच होने की है संभावना : डॉ जीतेन्द्र सिंह
2022 के तीसरे तिमाही में चंद्रयान-3 के लांच होने की है संभावना : डॉ जीतेन्द्र सिंह

जिसमे चंद्रयान-3 के प्रणालियों का निर्माण, अंतररिछ यान स्तरीय परीक्षण , चंद्रयान-3 को अंतिम रूप देना जैसी कई बिसेस प्रक्रिया सम्बंधित है।  इस प्रोजेक्ट के कार्य हलाकि कोरोना काल के कारन बाधित हुई जरूर थी पर रुकी नहीं थी , बहरहाल लोखडाउन के दौरान भी वर्क फ्रॉम होम के तहत कार्य संचालित किया जा रहा था। लॉक डाउन अवधि ख़तम होने के साथ चंद्रयान-3 की कार्य प्रगति में है और इससे तीव्र गति से पूरा करने पर फोकस किया जा रहा है।

चंद्रयान I और चंद्रयान II के बारे में जानते है

चंद्रयान-I: चंद्रयान I भारत का पहला सॅटॅलाइट जो मून के चक्कर लगाने को भेजा गया था। चंद्रयान 1 को 22 अक्टूबर 2008 को सतीश धवन स्पेस सेंटर जोकि श्री हरी कोटा , आंध्र प्रदेश में है, वह से लांच किया गया था।  इसको PSLV-XL राकेट के सहारे से लांच किया गया था।  14 नवंबर 2008 को भारत विश्व का चौथा ऐसा देश बना जिसने चाँद पे अपना बर्चास्वा लहराया।

2022 के तीसरे तिमाही में चंद्रयान-3 के लांच होने की है संभावना : डॉ जीतेन्द्र सिंह
2022 के तीसरे तिमाही में चंद्रयान-3 के लांच होने की है संभावना : डॉ जीतेन्द्र सिंह

लगभग 1 साल के बाद कुछ टेक्निकल परेशानियों के कारण चंद्रयान I ने अपना संपर्क ISRO  से खो दिया। 2 जुलाई 2016 के जमीनी राडार सिस्टम ने चंद्रयान I को चाँद के चारो और परिक्रमा करते ढूंढ निकला।

चंद्रयान II: 22 जुलाई 2019 को चंद्रयान II को सतीश धवन स्पेस सेंटर के लांच पैड से GSLV MARK III-M1 राकेट के सहारे लांच किया गया था। चंद्रयान II 20 अगस्त 2019  को चाँद के चारो और परिक्रमा करना सुरु कर दिया था।  साथ में चाँद के सतह के बारे में जानने के लिए चाँद के सतह पर विक्रम लैंड रोवर उतरने की तयारी ISRO ने कर रखी थी। परन्तु लैंडिंग के समय नियंत्रण खोने के कारण विक्रम लैंडर में डैमेज आ गया। ISRO के एक रिपोर्ट के अनुसार विक्रम लैंडर में कुछ सॉफ्टवेयर गलीच के कारण ये बिफलता देखनी पड़ी।

2022 के तीसरे तिमाही में चंद्रयान-3 के लांच होने की है संभावना : डॉ जीतेन्द्र सिंह
2022 के तीसरे तिमाही में चंद्रयान-3 के लांच होने की है संभावना : डॉ जीतेन्द्र सिंह

इसी तरह के देश विदेशो के खबरों के लिए बने रहिये Mihi News, नज़र सब पर खबर आप तक !!

इसे भी पढ़े: जंगली हाथियों के झुण्ड संग सेल्फी लेने गए युवक की गई…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here