America की Afghanistan में Airstrike हुई फर्जी साबित, Kenneth F. McKenzie Jr ने मानी गलती !
America की Afghanistan में Airstrike हुई फर्जी साबित, Kenneth F. McKenzie Jr ने मानी गलती !

अफ़ग़ानिस्तान: अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद 26 अगस्त को काबुल एयरपोर्ट पर आत्मघाती हमला हुआ था इसमें 13 अमेरिकी सैनिक समेत 200 से ज्यादा लोग मारे गए थे और आईएसआईएस खुरासान ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी हमले के बाद अमेरिका ने भी बदला लेने के लिए ड्रोन से हमला किया था और अमेरिका ने दावा किया था कि काबुल हमले का मास्टरमाइंड मारा गया है लेकिन बाद में इस एयर स्ट्राइक पर सवाल उठने लगे मिडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि इस हमले में निर्दोष लोग मारे गए और अब अमेरिका ने भी इस बात को स्वीकार कर लिया है

अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि ड्रोन हमले की जांच में पता चला है कि इसमें सिर्फ निर्दोष लोग मारे गए हैं ना कि आईएसआईएस खुरासान का आतंकी जैसा पहले माना जा रहा था अमेरिकी सेंट्रल कमांड के कमांडर जेनरल फ्रैंकलिन मैकेंज़ी ने कहा है की स्ट्राइक एक दुखद गलती थी इस से पहले 29 अगस्त को हुई एक स्ट्राइक में दस नागरिको की मौत के बावजूद अमेरिकी अधिकारी इसे सही ठहरा रहे थे इस हमले में मृतकों में 7 बच्चे भी शामिल थे

अमेरिका पीड़ितों के परिवार को मुआवजा भुगतान करने पर विचार कर रहा है

मीडिया रिपोर्ट में अमेरिकी दावे पर सवाल उठाए गए थे साथ ही कहा गया था कि जिस वाहन को टारगेट किया गया था उसका ड्राइवर लंबे वक्त तक अमेरिकी मानवीय संगठन का कर्मचारी था साथ ही रिपोर्ट में कहा गया था कि इस बात के सबूत नहीं है कि वाहन में विस्फोटक था मैकेंज़ी ने कहा कि मुझे अब विश्वास हो गया है कि उस हमले में 7 बच्चों समेत 10 नागरिक दुखद रूप से मारे गए थे इसके अलावा जांच में पता चला है कि यह संभावना नहीं है की स्ट्राइक में निशाना बनाया गया वाहन और मारे गये लोग आईएसआईएस खुरासान से से जुड़े थे

और उन से अमेरिका को कोई सीधा खतरा था मैकेंजी ने गलती के लिए माफी मांगी और कहा कि अमेरिका पीड़ितों के परिवार को मुआवजा भुगतान करने पर विचार कर रहा है अमेरिका के चेयरमैन ऑफ जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ जनरल मार्क मिल्ली ने कहा हमले के 2 दिन बाद ऐसा लगा था कि यह एक सटीक स्ट्राइक थी मारे गए लोगों में कम से कम 1 आतंकी आईएसआईएस का था जिसमें 26 अगस्त को काबुल एयरपोर्ट पर हमले की जिम्मेदारी ली थी

अमेरिकी रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन (Lloyd Austin) मांगी माफी !

इस हमले में 13 अमेरिकी सैनिकों समेत 200 लोगों की जान गई थी अमेरिकी रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन (Lloyd Austin) में 29 अगस्त को अमेरिकी स्ट्राइक में 10 अफगान नागरिकों की मौत के लिए माफी मांगी है न्यूयॉर्क टाइम्स की जांच की रिपोर्ट के अनुसार 29 अगस्त को जिस वक्त अमेरिका द्वारा एयर स्ट्राइक किया गया उस वक्त 43 साल की जमार अहमदी 1996 मॉडल की एक टोयोटा कोरोला कार चला रहे थे जो हमले में नष्ट हो गई स्ट्राइक में मारी जमार और 7 बच्चे सहित परिवार के 9 सदस्य की भी मौत हो गई थी जबकि अमेरिकी सेना का दावा था कि इस कार में विस्फोटक था जबकि इस कार में पानी के कंटेनर हुए थे

इसे भी पढ़े: SONU SOOD: लाखो दिलो के राजा, गरीबो के मसीहा सोनू सूद के घर पर आयी आयकर बिभाग की टीम !!

इसे भी पढ़े: China में फिर खतरनाक रूप में लौटा Corona का कहर, Fujian प्रांत में पब्लिक प्लेस बंद !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here