बहरूपिया कोरोनावायरस खत्म होने के बजाय नए नए रूपों में फैलता जा रहा है चीन के फुजियान प्रांत में कोरोना  खतरनाक रूप में लौटा है जिसे देखते हुए दक्षिण पूर्वी प्रांत फुजियान के एक शहर में सिनेमाघर, जिम और हाईवे बंद कर दिए गए हैं यहां के लोगों को शहर ना छोड़ने की हिदायत दी गई है स्थानीय स्तर पर कोरोना संक्रमण के फिर सामने आने के बाद चीन के इस शहर में यह फैसला लिया गया है मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक फुजियान के पुतियान शहर में कोरोना स्थिति गंभीर और जटिल है और संभव है कि जहां लोगों के बीच कोरोना संक्रमण के और नए मामले मिले पुतियान शहर की आबादी 3.2 मिलियन है यह संक्रमण के खतरे के बीच चीन की नेशनल हेल्थ अथॉरिटी ने एक एक्सपर्ट टीम भेजी है

यह कुछ स्कूलों में पढ़ाई ऑफलाइन पढ़ाई भी रोक दी गई है चीन के नेशनल हेल्थ कमीशन के मुताबिक 10 से 12 सितंबर के पुतियान में कोरोना के 43 नए मामले सामने आए हैं जिस में से 35 पुतियान शहर से मिले है  इसके अलावा पुतियान में 10 से 32 गैर लक्षण वाले मामले भी सामने आए हैं और इसकी संख्या तेजी से बढ़ रही है कहा जा रहा है की कोरोना का डेल्टा वेरियंट बाकी दूसरी वेरियस की तुलना में ज्यादा खतरनाक है इससे मौत के आंकड़ों में तेजी से इजाफा हो रहा है चीन में 12 सितंबर तक कुल 95248 कोरोना के मामले सामने आए थे जिसमें से 4636 लोगों की मौत हो गई चीन में आखिरी बार जिआंगसू में कोरोना ऑउटब्रेक देखा गया था जो हाल ही में 2 सप्ताह पहले खत्म हुआ है

कोरोना के तीसरी लहार आने से क्या फर्क पड़े गा भारत में !

भारत के बाद करे तो यहां भी तीसरी लहर की आशंका जताई जा रही है क्या तीसरी लहर आ गई है या फिर आने वाले दिनों में तीसरी लहर का कहर बरसने वाला है इसे लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से चेतावनी जारी कर दी गई है नीति आयोग के सदस्य डॉ बीके पाल ने बताया कि आखिर ऐसी कौन सी चीज है जिससे तीसरी लहर आ सकती है

डॉ बीके पाल : आने वाले दिनों में जो हम कंसर्न जाहिर कर रहे हैं फेस्टिवल होंगे मास गैदरिंग होगी व्यक्ति कट्ठे होगे बाजारों में मंडलों में और पंडालों में उससे हमें बच के रहना है फिर याद दिलाना चाहेंगे एक जिम्मेवारी है अपने लिए भी समाज के लिए भी तो भीड़ नहीं करनी है वायरस को यह पार्टियां यह भीड़ बहुत पसंद है और वह उसका मौका उठाएगा और यह फाइली ट्रांसफर सिविल वायरस है और जो भी कुछ हो अभी भी बहुत सारी पॉपुलेशन हमारी ससेप्टिबल है और हमें इस पीरियड से बचके वैक्सीन लेकर अपने आप को ढाल बनाकर सुख और समृद्धि पैदा करते हुए यह टाइम निकालना है और इसके लिए इन फेस्टिवल्स को परिवार में ही मनाएं तो सबसे अच्छी बात है उसी में सीमित करें बहुत मौके आएंगे फेस्टिवल को मनाने के यह एक वार्निंग भी कह लीजिए रिक्वेस्ट भी कह लीजिए जो हम सब की तरफ से है और कोविड-19 बैड बिहेवियर और मास्क अभी भी उतना ही जरूरी है जितना की पहली व दूसरी वेब में था इस की जरूरत किसी भी तरह से भी कम नहीं और वैक्सीन पूरे लग भी जाएंगे तब भी यह जहां तक हमें दिखाई दे रहा है यह लाजमी होगा इम्पोटेंट होगा। 

हालांकि भारत के संबंध में कहा जा रहा है कि अगर तीसरी लहर आती भी है तो इसका असर बाकी दो लहरों से कम होगा क्योंकि करीब आधी आबादी का वैक्सीनेशन हो चुका है जिससे यह लहर उतना असर नहीं दिखा पाएगी

 

इसे भी पढ़े: Apple ने iPhone-13 और iPhone-13 Mini को लॉन्च किया, जानें इसकी खासियत और क्यों होता है इतना महंगा?

इसे भी पढ़े: Kanhaiya Kumar ने की Rahul Gandhi से मुलाकात, कांग्रेस में जाने की अटकलें तेज !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here